On Page Seo Tutorial in Hindi | Ultimate Guide 2020

क्या आप अपने ब्लॉग पोस्ट को targeted keyword seo optimized करके ज्यादा से ज्यादा आर्गेनिक ट्रैफिक पाने योग्य बनाना चाहते हैं । यदि हा तो यह लेख बिलकुल आपके लिए ही है आज के इस लेख मे मैं आपको On Page seo techniques के बारे बताने वाला हूँ जिसे आप ध्यान मे रख कर अपने ब्लॉग को सर्च इंजन के उचाइयों तक ले जा सकते हैं , बड़ी ही आसानी से ।

क्या आप चाहते हैं की आप गूगल को बेहतर तरीके से समझा सके की आप अपने ब्लॉग के किस keyword , किस टॉपिक के लिए रैंक करवाना हैं , तो इस लेख को अंत तक पूरा पढ़ें ।

इस लेख में मैं आपको कुछ ऐसे seo optimization techniques के बारे मे बताऊंगा जिसे अपनाकर आप अपने ब्लॉग को बेहतर बना सकते हैं , और search engine मे बढ़िया रैंक हासिल कर सकते हैं ।

Seo Kya Hai

सबसे पहले तो हमे एसईओ रैंकिंग फैक्टर को समझना चाहिए एसईओ क्या है? एसईओ ( search engine optimize ) एक बहुत ही महत्वपूर्ण फैक्टर है इसके जरिये हम अपने ब्लॉग,वेबसाइट को सर्च इंजन के लिए optimized करते हैं ।

एसईओ पर मैंने पहले से ही एक विवरण भरा लेख लिखा है आप उसे पढ़कर एसईओ के बारे मे पूरी जानकारी हासिल कर सकते हैं , seo क्या है seo tutorial for beginners

जब बात आती है हमारे ब्लॉग,वेबसाइट को ऑप्टिमाइज़ करने की तो हमारे सामने 2 विकल्प होते हैं On Site Seo और Off Site Seo, मैं नीचे दोनों विकल्पों के बारे पूरी विस्तार से सम्पूर्ण जानकारी देने जा रहा हूँ  जिसे आप ध्यानपूर्वक पढ़ें क्यूंकी बेहतर रैंकिंग के लिए इन दोनों फैक्टर को फॉलो करना जरूरी होता है ।

इन सबसे पहले On site seo आता है इसमे हम अपने ब्लॉग,वेबसाइट के सभी पेज और पोस्ट , टैग इत्यादि को ऑप्टिमाइज़ करते हैं , जिसमे स्ट्रक्चर,पर्मालिंक,साईटमैप और सेटिंग।

1. On-Page SEO –

On Page SEO मे हम सिर्फ एक लेख को किसी विशेष targeted keyword पर फोकस करके उसे रैंक करने के लिए ऑप्टिमाइज़ करते हैं , जिसमे ब्लॉग टाइटल,हैडिंग,सबहैडिंग,मेटा टैग का सही तरीके से इस्तेमाल करना है।

2. Of Page SEO –Of Page SEO मे अपने ब्लॉग के लिए अलग अलग वेबसाइट से बैकलिंक बनाना होता है जैसे ब्लॉग को डायरेक्टरी सबमिशन करना, लेख को सोशल मीडिया पर शेयर करना इत्यादि।

On Page SEO क्यू करें ?

seo optimization kyu aur kaise kare

अक्सर नए ब्लॉगर के सामने जब seo optimization की बात आती है तो उन्हे लगता है seo optimize करना कोई गलत अभ्यास है , और ये बहुत ही कठिन काम है ।

लेकिन ऐसा कुछ नहीं ये बिलकुल भी बुरा अभ्यास नहीं बल्कि यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण अभ्यास है , seo optimization करना बहुत ही आसान है ।

हम जब भी किसी पोस्ट या पेज को ऑप्टिमाइज़ करते हैं तो गूगल हमरे लेख को अलग अलग फैक्टर को ध्यान मे रखते हुवे रैंक करता है ।

गूगल सिर्फ on page seo को देख कर लेख को रैंक नहीं करता है बल्कि बहुत से फैक्टर को देखते हुवे रैंकिंग करता है , जैसे कंटेंट की गुणवता , बैकलिंक, डोमेन अथॉरिटी , सोशल मीडिया सिंग्नल इत्यादि ।

आपको अपने ब्लॉग मे टाइटल, टैग, हैडिंग, इमेजेज को ऑप्टिमाइज़ करने के लिए सही तरीके से on page seo techniques का इस्तेमाल करना चाहिए ।

दोस्तों इस लेख मे मैं आपको on page seo techniques के बारे बताऊंगा जिसे फॉलो करके आप 2020 मे अपने ब्लॉग को seo friendly बना सकते हैं और सर्च इंजन मे बढ़िया रैंक हासिल कर सकते हैं । लेकिन उससे पहले आपको कुछ और जरूरी चिजे बताना चाहता हु पहले उसे देख लीजिये ।

  • सबसे पहले तो आप अपने ब्लॉग का user experiance को बेहतर बनाइये make sure आपके ब्लॉग मे कोई टुटा हुवा लिंक ना हो क्यूंकी ब्रोकन लिंक से हमारे ब्लॉग के रैंकिंग पर बुरा असर पड़ता है ।
  • हमेशा ओरिजिनल और unique content लिखिए किसी और साईट से कॉपी पेस्ट तो बिलकुल भी नहीं कीजिये हो सके तो अपने ब्लॉग के पाठकों से फीडबैक लीजिये और अपने ब्लॉग को बेहतर बनाइये ।
  • टाइटल टैग और सबहैडिंग का सही तरीके से इस्तेमाल कीजिये ।
  • लेख ऐसा लिखिए जिससे आपके ब्लॉग पर पाठक ज्यादा समय तक रहें ।

Top 10 On-Page SEO Techniques Of 2020

आइये यहाँ पर अब हम On Page SEO से जुडी सबसे बेहतर 10 Techniques के बारे में समझने की कोशिश करते हैं ताकि ब्लॉग पोस्ट को और भी ज्यादा बेहतर बनाया जा सके।

on page seo kya hai इस पोस्ट आप को top 10 on page seo techniques के बारे मे बताऊंगा जिससे आप आसानी से seo optimization करना सीख जाएंगे ।

1. Post Title – Best On Page seo Practice

आपके ब्लॉग का पोस्ट टाइटल बहुत महतवपूर्ण है on page seo के लिए, पोस्ट टाइटल ऐसा होना चाहिए जिससे ज्यादा से ज्यादा यूजर आपके ब्लॉग लिंक पर क्लिक करे , जितना ज्यादा इन्टरनेट यूजर आपके ब्लॉग लिंक पर क्लीक करेंगे उतने ही ज्यादा आपका लेख रैंक होगा।

लेख के टाइटल को भी लिखने के लिए कुछ नियम होते हैं, यदि आप उस नियम का पालन करते हुवे लेख लिखेंगे तो आपका लेख 100 प्रतिशत एसईओ के अनुकूल होगा, तो आइये हम किस तरह पोस्ट टाइटल लिखा जाता है उसके बारे में जानकारी लेते हैं।

#1. Targeting keyword Use करे –

ब्लॉग पोस्ट के टाइटल मे सिर्फ targeted ( फोकस) कीवर्ड का ही इस्तेमाल करें , कीवर्ड को पोस्ट के टाइटल में सम्लित करना भी On Page seo Techniques का ही एक महत्वपूर्ण फैक्टर है ।

#2. Keyword Repeat –

पोस्ट टाइटल में एक ही कीवर्ड को बार बार इस्तेमाल नहीं करना चाहिए है इससे आपके लेख को रैंक होने में परेशानी हो सकती है ।ब्लॉग टाइटल आप इस प्रकार लिख सकते हैं, On Page Seo Tutorial in Hindi | Ultimate Guide 2019 ये बिलकुल perfect है ।

#3. Number Add करें –

ब्लॉग पोस्ट टाइटल में 0-9 तक कोई नंबर का इस्तेमाल करें जैसे की मैंने इस पोस्ट मे की है Top 10 On Page seo Techniques 2019 या 10 recommended wp plugin इस तरह से टाइटल मे नंबर का उपयोग कीजिये ।

#4. Popular Word Use कीजिये –

ब्लॉग पोस्ट टाइटल में हो सके तो लोकप्रिय कीवर्ड का इस्तेमाल कीजिये Best seo guide , Top wordpress plugin ,इसके अलावा , helpful , review इत्यादि word का इस्तेमाल कीजिये ।

#5. Use Less Than 70 Characters –

ब्लॉग पोस्ट टाइटल को 35 – 75 शब्दों के बिच में ही रखें यदि इससे ज्यादा का रखते हैं तो सर्च इंजन आपके पोस्ट को अन्देखा कर सकता है ।

2.Blog Post Permalink Configuration –

Permalink काफ़ी महत्वपूर्ण होता है ब्लॉग पोस्ट के लिए, यह लेख लिखने के लिए एसईओ का दूसरा सबसे जरुरी फैक्टर है, क्यूंकी permalink ही आपके ब्लॉग पोस्ट का युआरएल होता है।

पर्मालिंक के लिए भी कुछ गाइड लाइन हैं जिनके अनुसार आपका लेख एसईओ अनुकूल होने साथ सर्च इंजन में काफी आसानी से रैंक होने लगेगा।

  • Targeting Keyword Add करें – पर्मेमालिंक में भी फोकस कीवर्ड को सम्लित करना बहुत ही महत्वपूर्ण होता है, इसके लिए आप फोकस कीवर्ड को पर्मालिंक में जरुर शामिल करें है ।
  • Extra Word Remove करे – पर्सेमालिंक से अतिरिक्त शब्दों के डिलीट कर देना चाहिए, यानि आसानी भाषा में कहे तो पोस्ट के पर्मालिंक को कभी भी छोटा रखना चाहिए जैसा की आप इस लेख को में देख सकते हैं on-page-seo-tutorial 
  • Permalink छोटा रखे – Permalink जितना हो सके उतना छोटा रखे क्यूकी बड़ा पर्मालिंक रखने पर भी लेख को सर्कच इंजन अनदेखा कर सकता है ।

3.Post Meta Tag Description –

on page seo techniques on page seo kya hai इस पोस्ट आप को top 10 on page seo techniques के बारे मे बताऊंगा जिससे आप आसानी से seo optimization करना सीख जाएंगे ।

मेटा टैग on page seo techniques के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है ये सर्च इंजन को ब्लॉग पोस्ट के बारे में संछिप्त जानकारी देते हैं।

मेटा टैग विवरण भी एक महत्वपूर्ण on page seo techniques है यदि आप सही तरीके से मेटा विवरण लिखना सीख जाएँ तो आपकी लेख सर्च परिणाम मे टॉप पर आ सकती है ।

हमेशा बढ़िया मेटा विवरण लिखने कोशिश करे की क्यूंकी ये सर्च परिणाम मे आपके लेख टाइटल और लेख युआरएल के नीचे दिखाया जाता है। मेटा विवरण जितना बढ़िया होगा उतना ही इन्टरनेट यूजर को अपने तरफ आकर्षित करेगा , जिससे की आपको ज्यादा ज्यादा सर्च मे CTR ( click throw rate ) मिल सके ।

मेटा विवरण मे फोकस ( targeting ) कीवर्ड का इस्तेमाल जरूर करें और मेटा विवरण  हमेशा 160 अक्षरों के अंदर ही लिखे , ज्यादा लंबा विवरण भी एसईओ के लिए अच्छा नहीं होता है ।

4.Post Heading And Subheading –

किसी भी ब्लॉग पोस्ट में हैडिंग औए सबहैडिंग का उपयोग शब्दों और पैराग्राफ को हाई लाइट करने के लिए किया जाता है, यानि हैडिंग के जरिये हम आने ब्लॉग पाठकों को ब्लॉग पोस्ट को अच्छे से समझने की सहूलियत देते हैं, हैडिंग के इस्तेमाल से पोस्ट को रैंक होने में भी सहायता मिलती है ।

पोस्ट टाइटल को H1 हेडिंग मे रखे वैसे तो डिफ़ॉल्ट रूप से पोस्ट शीर्षक थीम के साथ H1 मे ही आता है , Post मे H2,H3,H4,H5 और H6 सबहैडिंग का सही तरीके से उपयोग करे , फोकस कीवर्ड को भी सबहैडिंग में सम्लित करना बहुत जरुरी होता है ।

आप किसी भी हैडिंग या सबहैडिंग का इस्तेमाल पोस्ट मे बार बार ना करें मतलब एक हैडिंग को सिर्कोफ़ एक ही बार उपयोग में लायें, यदि आप कई बार एक ही हैडिंग का इस्तेमाल करेंगे तो आपने जितना भी एसईओ किया होगा सब निगेटिव माना जाएगा ।

5.Use Focus Keyword –

कीवर्ड सर्च इंजन से ज्यादा ट्राफिक हासिल करने का एक महत्वपूर्ण on page seo techniques है, क्यूंकि सारा खेल कीवर्ड का ही होता है , यदि आप ज्यादा लेकप्रिय कीवर्ड के ऊपर लेख लिखते हैं तो आपका लेख जल्दी रैंक होगा और आपको ज्यादा से ज्यादा ट्रैफिक आसानी से मिल सकेगा।

यदि आप अपने ब्लॉग पोस्ट मे कोई particular keyword उपयोग करते हैं और कोई यूजर उसी कीवर्ड को सर्च करता है तो आपका लेख उस सर्च परिणाम में सबसे ऊपर आएगा ।

Blog post में Keyword use करते समय आपको keyword density पर ध्यान देना होगा , इसे आप maximum 3% से नीचे ही रखे ।

keyword density को ऐसे समझे मान लीजिये आपने कोई post लिखा है 100 word में और उसमे आपका targeting keyword on page seo techniques है , तो इसे maximum 3-4 बार ही use करें ।

जब भी आप keyword का उपयोग post मे करें तो focus keyword को bold , italic , highlight , underline जरूर करें इससे हमारे reader और search robots को focus करने मे मदद मिलता है ।

example के तौर पर आप इसे देखिये on page seo techniques यह इस post का targeting keyword है जिसे मैंने bold कर दिया है ।

6.Do Media Optimization –

आजकल जमाना है images , videos का लोग पढ़ने बजाए post मे image देखना ज्यादा पसंद करते हैं , यही वजह है की search engines ने भी पहले उनही post को प्राथमिकता देता है जिनमे article से related images होते हैं ।

इसका मतलब ये नहीं की आप अनचाहे images को अपने post ठूस ठूस के भर दे , आप अपने हर post मे image और videos का भी इस्तेमाल करे और इसके साथ image मे alt tag और description भी लिखे , image के alt tag और description मे targeted keyword का use करे ।

image को post मे लेने से पहले image rename optimized कर ले उसके बाद ही post मे insert करें , image optimization के बारे मे मैंने पहले से ही एक tutorial लिखा है आप इसे पढ़ सकते हैं ।

7. Content Word Per Post –

Content Word count on page seo techniques का ही एक important हिस्सा है , आपने अक्सर देखा होगा जो पोस्ट जितना लंबा होता है उसका ranking भी उतना ही बेहतर होता है example के तौर पर wikipedia को देखा लीजिये ।

आपके post मे जीतने ज्यादे word होंगे उतना ही बेहतर होगा कम से कम कोई article 600-800 word मे लिखे इससे कम word के post का rank करना बहुत मुश्किल होता है ।

इसका मतलब ये नहीं की आप कुछ भी फालतू चिजे लिख कर post मे कचड़ा फैला दें , आपको बहुत समझदारी से post को बढ़ा चढ़ा लिखना चाहिए जो reader के काम की हो ।

8.Focus On Content Quality –

Content quality हमेशा focus करना चाहिए आप जो भी content लिखे वो unique और original होना चाहिए ।

जो content लिखे सोच समझ कर लिखे क्यूंकी content की quality ही main factor है अच्छी ranking पाने का कोई भी search engine सबसे पहले content quality पर ही focus करता है ।

कभी भी किसी और website से content copy paste नहीं करना चाहिए ऐसा करना आपके blog पर बहुत बुरा असर डाल सकता है , content copy paste करने पर google के तरफ से penalty भी लग सकती है और आपका blog search engine बाहर भी हो सकता है ।

content ऐसा लिखे जिसका demand ज्यादा हो मतलब किसी ऐसे keyword को target करके पोस्ट लिखे जिसे बहुत ज्यादा search किया जा रहा हो , इसके लिए keyword research tools का इस्तेमाल कर सकते हैं ।

यहा मैं google keyword ranking tools के बारे बता रहा हूँ जिसका इस्तेमाल आप कर सकते हैं , google keyword planner free tools , Small seo tools ऐसे और भी free keyword tool है जिनका उपयोग आप कर सकते है ।

post publish करने से पहले grammar और spelling check जरूर कर लें grammar के लिए आप small seo tools grammar checker का इस्तेमाल कर सकते हैं ।

9.Make Internal Linking –

internal linking blog post के लिए most important on page seo techniques का ही हिस्सा है , internal linking का मतलब आप ऐसे समझिए मान लीजिये आपने 10 post लिखा है seo पर फिर आप कोई नया post लिख रहे हैं seo पर तब पिछले 10 post मे से कुछ post का link नए वाले post मे भी दे ।

Exapmle का तौर पर आप इसी post देख लीजिये मैंने जगह जगह पर seo से जुड़ी दूसरी post का link दिया है , जब भी आप internal link दे तो एक बात का ध्यान रहे same category का ही link दें जैसे आप seo category पर post लिख रहे हैं तो seo category के दूसरे post का ही लिंकिंग करें ।

10.Add External Linking –

Blog की search ranking increase करने के लिए external linking भी important on page seo techniques है जैसे मान लीजिये आप google या wordpress के बारे मे लिख रहे तो उनके site का link post include करें ।

External linking करते समय एक बात हमेशा ध्यान रखे कभी भी किसी porn या adults site का link अपने post मे समलित ना करे ऐसा करने पर site rank बढ्ने के बजाए जीरो भी हो सकता है ।

Last Word :-

Seo कितना जरूरी है हमारे blog के लिए आप समझ सकते हैं वगैर seo ( search Engine Optimization ) किए search engine मे rank करना बहुत ही मुश्किल है ।

आशा है आपको On Page Seo सीखने मे कोई problem नहीं हुआ होगा यदि फिर आपके मन मे कोई seo से संबन्धित Doubt हो तो हमसे पूछे ।

यदि आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे share जरूर कर दें facebook , whatsapp , twitter आदि social sites पर ।

✤✤✤ Happy Blogging ✤✤✤

KAMODH SINGH

मैं डिजिटल बने ब्लॉग का संस्थापक और पेशेवर ब्लॉगर हूँ। इस साईट पर मैं नियमित रूप से कुछ नया उपयोगी और मददगार जानकारी शेयर करता हूं।

Leave a Reply